असम सरकार ने स्प्रिंटर हिमा दास को डीएसपी के रूप में नियुक्त करने का फैसला किया ऑफ द फील्ड न्यूज – टाइम्स ऑफ इंडिया

0
3
 असम सरकार ने स्प्रिंटर हिमा दास को डीएसपी के रूप में नियुक्त करने का फैसला किया  ऑफ द फील्ड न्यूज - टाइम्स ऑफ इंडिया


गुवाहाटी: असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल बुधवार रात उनकी कैबिनेट की बैठक की अध्यक्षता की जहां विश्व चैम्पियनशिप धावक को नियुक्त करने का निर्णय लिया गया हेमा दास राज्य में एक पुलिस उपाधीक्षक के रूप में।
कैबिनेट ने राज्य के विभिन्न विभागों जैसे कि पुलिस, आबकारी, परिवहन आदि में सरकार के प्रवक्ता और उद्योग मंत्री चंद्र मोहन पटौदी ने कहा कि खिलाड़ियों को कक्षा -1 और वर्ग -2 के अधिकारियों के रूप में नियुक्त करके राज्य की एकीकृत खेल नीति में संशोधन करने का फैसला किया।
यह निर्णय लिया गया कि दास को ए डीएसपी रैंक का अधिकारी असम पुलिस में और ओलंपिक, एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में पदक विजेता को वर्ग- I अधिकारी के रूप में नियुक्त किया जाएगा।
नाम दिया हुआ ‘ढींग एक्सप्रेस’, हेमा दास असम की 20 वर्षीय भारतीय स्प्रिंटर हैं।
वह IAAF वर्ल्ड U20 चैंपियनशिप में वैश्विक ट्रैक इवेंट के किसी भी प्रारूप में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट बन गईं, जब उन्होंने 51.46 सेकंड की गति देखी।
उन्होंने कहा कि कैबिनेट ने राज्य के लिए साइबर सुरक्षा नीति का मसौदा तैयार करने का भी फैसला किया।
बैठक में बोडोलैंड और 6 वीं अनुसूची क्षेत्रों के प्रशासनिक स्टाफ कॉलेज की स्थापना का संकल्प लिया गया।
इस बैठक ने जनवरी 2021 से मार्च 2021 की अवधि के लिए 30 यूनिट तक की खपत के लिए सभी घरों में मुफ्त बिजली प्रदान करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी।
हिल्स एरिया विभाग का नाम बदलकर असम छठी अनुसूची परिषद विभाग के रूप में काम करेगा।
बैठक सिलचर में बराक घाटी में एक लघु सचिवालय स्थापित करने के लिए सहमत हुई और यह छह विभागों- कर्मियों, राजस्व और आपदा प्रबंधन, सामान्य प्रशासन विभाग, कृषि, मत्स्य और पशुपालन और पशु चिकित्सा विभागों के साथ शुरू होगी।
कैबिनेट ने वाणिज्यिक भवनों में ऊर्जा संरक्षण के लिए ऊर्जा संरक्षण भवन कोड- को अपनाने पर भी सहमति व्यक्त की
नगरपालिका बोर्डों के कर्मचारियों को सेवा लाभ प्रदान करने के प्रस्ताव को हरी झंडी दी गई।
बैठक ने आगे गौहाटी प्रेस क्लब सहित विभिन्न संगठनों को भूमि आवंटित करने का निर्णय लिया।
इसने सिद्धांत रूप में एक नए परिसर का भी अनुमोदन किया श्रीमंत शंकरदेव डिब्रूगढ़ में कलाक्षेत्र।
पटोवेरी ने कहा कि मंत्रिपरिषद लोक निर्माण विभाग का नाम बदलकर लोक निर्माण विभाग बनाने पर भी सहमत हुई।